CareerEducationNationalPolitics

बिहार में एक गरीब बेटी की शादी में मदद के लिए आगे आई दिल्ली की एक संस्था

राष्ट्र समाचार, लखीसराय संवादाता – बिहार के लखीसराय में गुरुवार शाम एक लड़की की शादी थी। यह शादी कुछ अजीब थी। आपको आश्चर्य होगा कि यह एक अरैंज मैरेज ही था लेकिन इसमें व्यवस्थापक लड़की के परीजन न होकर एक संस्था की टीम थी। मैथिल ब्राह्मण विवाह मंच, नई दिल्ली संस्था के सभी सदस्य बारातियों के स्वागत में लगे थे, सारी व्यवस्था संस्था के द्वारा किया गया था। यह विवाह दहेज मुक्त विवाह था। मैथिल ब्राह्मण विवाह मंच, नई दिल्ली संस्था के संस्थापक महादेश्वर झा अपनी व्यस्तता के कारण कल शाम लखीसराय नहीं पहुंच सके लेकिन उनकी टीम बखूबी अपने कार्य में लगी रही।

आखिर क्यों संस्था को आगे आना पड़ा?

राष्ट्र समाचार के संवादाता ने जब फोन लाइन पर संस्था के संस्थापक महादेश्वर झा जी से बात की तो उन्होंने बताया कि जब संस्था को अपने एक सदस्य के द्वार पता चला कि एक गरीब कन्या के विवाह में आर्थिक मुश्किलें आ रही है तो संस्था ने सारी तैयारी का जिम्मा अपने ऊपर ले लिया।

क्या करती है संस्था

मैथिल ब्राह्मण विवाह मंच संस्था पिछले ढाई सालों से मैथिल ब्राह्मणों को वैवाहिक सेवा प्रदान कर रहा है। संस्था गरीब ब्राह्मण कन्याओं को दहेज मुक्त वर ढूंढने में मदद करता है एवं जो लड़की पक्ष आर्थिक रूप से सक्षम नहीं होते हैं वहां संस्था आर्थिक मदद भी करती है। जरूरत पड़ने पर विवाह का भी खर्च भी संस्था उठाती है। श्री झा ने आगे बताया कि संस्था का प्रयास है कि बिहार के सभी जिलों में इस तरह का दहेज मुक्त विवाह हो और संस्था हर जरूरतमंद गरीब ब्राह्मण कन्याओं के विवाह में इसी तरह से मदद करती रहे। अंत में उन्होंने समाज से अपील की और कहा की सब लोग इस समाज सेवा में आगे आएं और पुण्य के भागी बनें।

Comment here